BREAKING NEWS -
Search

शास्त्री भारतीय क्रिकेट टीम के कोचिंग स्टाफ में चाहते हैं बदलाव

टीम इंडिया के नए हेड कोच रवि शास्त्री भारतीय क्रिकेट टीम के कोचिंग स्टाफ में बदलाव चाहते हैं, जिसके लिए वह सोमवार को नए सपोर्ट स्टाफ के चयन के बारे में प्रशासकों की समिति (सीओए) के साथ बैठक करेंगे। शास्त्री इस वक्त लंदन में है और मुंबई लौटने के बाद ही वह सोमवार को सीओए से मिलेंगे। रवि शास्त्री बतौर गेंदबाजी कोच भरत अरुण को टीम के साथ जोड़ना चाहते हैं। इस वजह से टीम इंडिया के फुल टाइम गेंदबाजी कोच के रूप में उनके चुने जाने की पूरी उम्मीद है।

इस बैठक में बीसीसीआई के कार्यकारी अध्यक्ष सीके खन्ना, सचिव अमिताभ चौधरी, सीईओ राहुल जोहरी और सीओए प्रमुख विनोद राय शामिल हो सकते हैं। टीम इंडिया में पहले से ही संजय बांगड़ और आर. श्रीधर फुल टाइम बल्लेबाजी और फील्डिंग कोच के रूप में टीम मैनेजमेंट का हिस्सा हैं।

वहीं बीसीसीआई के हवाले से ये भी खबरें आ रही हैं कि जहीर खान और राहुल द्रविड़ के कॉन्ट्रैक्ट अभी तय नहीं किए गए हैं और न ही उनके कॉन्ट्रैक्ट्स पर कोई फैसला लिया गया है। प्रशासकों की समिति (सीओए) का कहना है कि वे टीम इंडिया के सपोर्ट स्टाफ में बतौर बल्लेबाजी और गेंदबाजी सलाहकार के रूप में नामांकित हैं, लेकिन अंतिम फैसला टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री के साथ मीटिंग के बाद ही लिया जाएगा।

सीओए की 3 सदस्य समिति मंगलवार 18 जुलाई को एक मीटिंग करेगी, जिसमें वह कोई आधिकारिक घोषणा करने से पहले जहीर खान और राहुल द्रविड़ से उनके टीम इंडिया के साथ कॉन्ट्रैक्ट के मुद्दे पर बात करेगी. उसके बाद ही कोई फैसला लिया जाएगा. इसके अलावा सीओए की 3 सदस्य समिति 19 जुलाई को भी एक मीटिंग करेगी. जिसमें टीम इंडिया के कोचिंग स्टाफ के कॉन्ट्रैक्ट मुद्दे पर बात करने के साथ-साथ राहुल द्रविड़ के आईपीएल कॉन्ट्रैक्ट और उससे जुड़े हितों के टकराव के मामले पर भी चर्चा कर सकती हैं.




>