BREAKING NEWS -
Search

डेनिस मुकवेगे और नादिया मुराद को मिला शांति का नोबेल पुरस्कार

कांगो के चिकित्सक डेनिस मुकवेगे और यजीदी कार्यकर्ता नादिया मुराद को मिलेगा साल 2018 का नोबेल शांति पुरस्कार, यौन हिंसा को युद्ध के हथियार के तौर पर इस्तेमाल करने पर रोक लगाने के प्रयासों के लिए उन्हें दिया जाएगा ये सम्मान।

शुक्रवार को नोबेल शांति पुरस्कारों की घोषणा की गई। ओस्लो में पांच सदस्यों की कमिटी ने कांगो के डॉक्टर डेनिस मुकवेगे और आईएस के आतंक का शिकार हुई नादिया मुराद को नोबेल शांति पुरस्कार के लिए चुना है। यौन हिंसा के खिलाफ प्रभावी मुहिम चलाने और महिला अधिकारों के लिए उत्कृष्ट कार्य के बदले यह सम्मान दिया जाएगा।

पुरस्कार चयन समिति के मुताबिक दोनों ही विजेताओं ने युद्ध क्षेत्र में यौन हिंसा को हथियार की तरह इस्तेमाल किए जाने की मानसिकता के खिलाफ सराहनीय काम किया है। यौन हिंसा के खिलाफ इनके सर्वोच्च योगदान को देखते हुए इन्हें नोबेल शांति सम्मान देने की घोषणा की गई है। 10 दिसंबर को एक विशेष समारोह में इन्हें ये पुरस्कार प्रदान किया जाएगा।




>