BREAKING NEWS -
Search

विराट पर लगा 12 लाख रुपए का जुर्माना

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के कप्तान विराट कोहली ने डेथ ओवरों में अपने गेंदबाजों के प्रदर्शन को अपराध की संज्ञा दी जिनके लचर खेल के कारण इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) टी20 मैच में चेन्नई सुपरकिंग्स की टीम 205 रन के लक्ष्य को हासिल करने में सफल रही। हार के बाद उन्होंने कहा, ‘लोगों को देखने के लिए अच्छा मैच मिला लेकिन टीम के तौर पर हम काफी निराश हैं कि हम अपने हक में नतीजा नहीं हासिल कर पाए। उधर, कोहली पर धीमी ओवर गति के लिए 12 लाख रुपए का जुर्माना लगाया गया।

कोहली ने मैच के बाद कहा, ‘हमने जिस तरह से गेंदबाजी की, वह स्वीकार्य नहीं है। 74 रन पर हमने चार विकेट झटक लिए थे और महज एक विकेट गंवाकर इतने सारे रन लुटाना आपराधिक है। यह ऐसी चीज है जिसमें हमें आगे बढ़ने से पहले सुधार की जरूरत है क्योंकि हमने अच्छी गेंदबाजी नहीं की। अगर हम 200 रन के स्कोर का बचाव नहीं कर सकते तो समस्या कहीं और ही है।’ उन्होंने कहा, ‘हमें अपने खिलाड़ियों का साथ देना होगा और उनमें आत्मविश्वास भरना होगा कि उन्हें रणनीति का कार्यान्वयन करने में स्पष्ट होना होगा। यह पिच काफी अच्छी थी, इस पर स्पिन ने अहम भूमिका अदा की। दोनों टीमों ने अच्छी बल्लेबाजी की और 200 रन का स्कोर बनाया।’

कोहली ने रायुडू और धोनी की तारीफ करते हुए कहा, ‘रायुडू 15 साल से साथ है, वह बेहतरीन खिलाड़ी है और उसने भारत के लिए अच्छा प्रदर्शन किया है। पता नहीं कहीं भी आपको मौका मिल सकता है, मुझे उसके लिए खुशी है। धोनी को मैन ऑफ द मैच चुना गया। कोहली ने कहा, ‘धोनी सचमुच अच्छी फार्म में है, वह इस आईपीएल में गेंद को सचमुच अच्छी तरह हिट कर रहा है, लेकिन हमारे खिलाफ रन बनाना अच्छा नहीं है।’

चेन्नई सुपरकिंग्स की टीम 206 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए 74 रन पर चार विकेट गंवा बैठी थी लेकिन महेंद्र सिंह धोनी ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए 34 गेंद में नाबाद 70 रन बनाये जबकि सलामी बल्लेबाज अम्बाती रायुडू ने 53 गेंद में 82 रन की पारी खेलकर यह लक्ष्य अंतिम ओवर में दो गेंद रहते हासिल कर लिया। धोनी ने अपनी पारी के दौरान सात छक्के जमाये जिसमें एक विजयी छक्का भी शामिल है जबकि रायुडू ने आठ छक्के लगााये। बीती रात एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में रिकार्ड 33 छक्के लगे।




>