BREAKING NEWS -
Search

नीतीश के मंत्रिमंडल का विस्तार, 27 मंत्रियों ने ली शपथ, विभागों का भी बंटवारा

पटना: बिहार की नई सरकार के मंत्रिमंडल का शनिवार को विस्तार हो गया। शाम पांच बजे नीतीश कुमार की नई कैबिनेट के 27 मंत्रियों ने पद एवं गोपनीयता की शपथ ली। राजभवन के मंडपम हॉल में बिहार के राज्यपाल केशरी नाथ त्रिपाठी ने नए सरकार के सभी मंत्रियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलायी। वहीं भाजपा नेता और हिमाचल प्रदेश के प्रभारी मंगल पांडेय समय पर नहीं पहुंचने के कारण उन्होंने बाद में शपथ लिया।

शपथ ग्रहण के लिए सबसे पहले बीजेपी के कृष्ण कुमार ऋषि राजभवन के मंडपम हॉल पहुंचे, उनके साथ ही माहेश्वर हजारी भी पहुंचे। उसके बाद शैलेष कुमार भी पहुंचे। सभी सदस्यों और अतिथियों के पहुंचने के बाद राज्यपाल पांच बजकर दस मिनट पर पहुंचे और उन्होंने देर से आने के लिए सबसे क्षमा याचना की।

राज्यपाल के मंच पर पहुंचते ही लोगों ने उनका अभिवादन किया, फिर राष्ट्रगान के बाद शपथ ग्रहण समारोह की विधिवत शुरुआत हुई। उसके बाद सभी मंत्रियों के नाम की घोषणा की गई और एक एक कर सभी मंत्रियों ने शपथ ली। नीतीश की पूरी कैबिनेट में एक ही महिला मंत्री ने शपथ ली और उनका नाम मंजू वर्मा है, जो जदयू कोटे की मंत्री हैं और नीतीश कैबिनेट की पुरानी मंत्री हैं।

मंत्री और उनका विभाग

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार-                गृह, सामान्य प्रशासन,निगरानी

उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी-             वित्त, वाणिज्य कर, वन, आईटी

विजेंद्र यादव-                                 ऊर्जा,उत्पाद,मद्य निषेध

प्रेम कुमार-                                    कृषि विभाग

ललन सिंह-                                   जल संसाधन,योजना विकास

नंद किशोर यादव-                        पथ निर्माण विभाग

श्रवण कुमार-                                ग्रामीण विकास,संसदीय कार्य

रामनारायण मंडल-                      राजस्व,भूमि सुधार

जय कुमार सिंह-                         उद्योग,विज्ञान प्रावैधिकी

प्रमोद कुमार-                             पर्यटन

कृष्णनंदन वर्मा-                         शिक्षा

महेश्वर हजारी-                           भवन निर्माण

विनोद नारायण झा-                   PHED महकमा

शैलेश कुमार-                            ग्रामीण कार्य विभाग

सुरेश शर्मा-                              नगर विकास एवं आवास

मंजू वर्मा-                                 समाज कल्याण विभाग

विजय सिन्हा-                          श्रम संसाधन विभाग

संतोष निराला-                         परिवहन विभाग

राणा रणधीर-                           सहकारिता विभाग

खुर्शीद उर्फ फिरोज-                अल्पसंख्यक कल्याण,गन्ना उद्योग

विनोद सिंह-                              खान एवं भूतत्व

मदन सहनी-                            खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण

कृष्ण कुमार ऋषि-                    कला संस्कृति विभाग

कपिल देव कामत-                    पंचायती राज विभाग

दिनेश यादव-                           लघु सिंचाई,आपदा प्रबंधन

रमेश ऋषिदेव-                         अनुसूचित जनजाति,कल्याण विभाग

पशुपति पारस-                         पशु एवं मत्स्य संसाधन

मंगल पांडेय-                            स्वास्थ्य मंत्री

बता दें कि शुक्रवार को नई सरकार ने अपना बहुमत साबित किया था और उसके बाद से ही मंत्रिमंडल विस्तार की चर्चा जोरों पर थी। शनिवार को ही मंत्रिमंडल का विस्तार करने के पीछे वजह यह बताई जा रही है कि नीतीश कुमार बिहार में विकास का काम बाधित नहीं होने देना चाहते हैं।

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी मंत्रिमंडल में शामिल नहीं हुए। मांझी खुद शुक्रवार को इस बात की घोषणा कर चुके थे। जानकारी के मुताबिक, जीतनराम मांझी मुख्यमंत्री रह चुके हैं और अब नीतीश सरकार में मंत्री बनने से बतौर पूर्व सीएम मिली सुविधाएं उनसे छिन सकती है।




>