BREAKING NEWS -
Search

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने कहा ‘कला और साहित्य है समाज की ज़रूरत’

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने समाज में कला और साहित्य के महत्व पर ज़ोर देते हुए कहा कि – काव्य में व्यवहार, मानसिकता और सामाजिक नियमों में बदलाव लाने की क्षमता है। उपराष्ट्रपति ने कवियों, लेखकों और दूसरी प्रमुख हस्तियों को किया सम्मानित।

उप-राष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने ओडिशा के भुवनेश्वर में चल रहे 39वें विश्व कवि सम्मेलन में कविताओं के एक संग्रह का विमोचन किया। सम्मेलन के समापन सत्र को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि कविता एक शक्तिशाली उत्प्रेरक के रूप में काम कर सकती है जो सामाजिक परिवर्तन की प्रक्रिया को तेज कर सकती है। साथ ही उन्होंने स्कूलों से कविता पढ़ने को पाठ्यक्रम का अनिवार्य हिस्सा बनाने का आग्रह किया।




>