BREAKING NEWS -
Search

आखिर क्यों पीएम मोदी को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बताया ‘भ्रष्ट व्यक्ति’

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को राफेल सौदे में भूमिका पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ख़िलाफ़ जांच की मांग की और आरोप लगाया कि वह एक भ्रष्ट व्यक्ति हैं जिन्होंने 36 लड़ाकू विमानों की ख़रीद में अनिल अंबानी को 30,000 करोड़ रुपये का फायदा पहुंचाया.

गांधी ने जांच की मांग ऐसे समय की है जब एक दिन पहले फ्रांसीसी वेबसाइट में छपी एक ख़बर में कहा गया कि राफेल बनाने वाली कंपनी डास्सो एविएशन को भारत में अपने ऑफसेट साझेदार के तौर पर अंबानी की कंपनी रिलायंस डिफेंस को ही चुनना था.

कांग्रेस अध्यक्ष ने प्रधानमंत्री के ख़िलाफ़ अपने आरोपों के समर्थन में कोई साक्ष्य पेश नहीं किए. मालूम हो कि सरकार लगातार कहती रही है कि उसकी डास्सो द्वारा रिलायंस डिफेंस को चुनने में कोई भूमिका नहीं है.

कांग्रेस अध्यक्ष ने रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण की फ्रांस की तीन दिन की यात्रा को सरकार द्वारा राफेल सौदे पर पर्दा डालने की कोशिश का हिस्सा बताया. गांधी ने संवाददाता सम्मेलन में सवाल किया, ‘रक्षा मंत्री अचानक फ्रांस क्यों गई हैं? क्या आपात स्थिति है?’

उन्होंने कहा, ‘वास्तविकता यह है कि प्रधानमंत्री भ्रष्ट हैं. भारत के प्रधानमंत्री एक भ्रष्ट व्यक्ति हैं.’ कांग्रेसी अध्यक्ष ने कहा कि मोदी भ्रष्टाचार से लड़ने के वादे पर सत्ता में आए थे. वह देश के युवाओं को बताना चाहते हैं कि प्रधानमंत्री भ्रष्टाचार में लिप्त हैं.

बीजेपी का पलटवार 

राफेल पर राहुल गांधी के आरोपों पर बीजेपी ने कहा झूठ का खुलासा होने के बाद भी फिर झूठ बोलकर निर्लजज्ता दिखा रहे हैं राहुल , पूरे गांधी परिवार को बताया भ्रष्ट , कहा राष्ट्रीय सुरक्षा से कर रहे हैं खिलवाड़।

राफेल पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के आरोपों पर बीजेपी ने करारा पलटवार किया है । राफेल में भ्रष्टाचार पर राहुल गांधी के आरोप पर बीजेपी प्रवक्ता संबित प्रवक्ता ने कहा किराहुल गांधी झूठ और फरेब के आधार पर देश में भ्रांति फैलाकर राजनीति कर रहे हैं। संबित पात्रा ने कहा कि वायुसेना प्रमुख ने राफेल को देश के लिए गेमचेंजर बताया है लेकिन राहुल गांधी किसी की बात नहीं मानते और वो केवल झूठ का सहारा ले रहे हैं। संबित पात्रा ने कहा कि पूरा गांधी परिवार भ्रष्ट है और वो दूसरों की ओर उंगली उठा रहे हैं।

 




>